हस्तरेखा

हस्तरेखा

|| हस्तरेखा द्वारा पारिवारिक,
वैवाहिक तथा संतान सुख का विश्लेषण ||
विवाह रेखा की गणना सात छोटी-छोटी रेखाओ में की गई है, परन्तु महत्व की दृस्टि से यह रेखा बड़ी रेखाओ के समान ही है। यह रेखा कुछ हाथो में हृदय रेखा के ऊपर तो कुछ हाथो में हृदय रेखा के निचे दिखाई पड़ती है। जिन हाथो में यह रेखा हृदय रेखा के ऊपर होती है उनमे से दो तीन प्रतिशत के विवाह संभवतया नहीं हो पाते परन्तु शेष के विवाह होते देखे जाते है।

विवाह सम्पन्न: -

बुध क्षेत्र पर स्थित सरल नाथा स्पष्ट विवाह रेखा को एक बारीक छोटी सी खड़ी रेखा काट रही हो तथा साथ ही विवाह रेखा पर नक्षत्र चिन्ह भी हो तो ऐसे जातक के विवाह सम्बन्ध में बाधा पड़ती है। परन्तु ईस रेखा के साथ यदि दूसरी रेखा हो तथा विवाह रेखा को काटने वाली रेखा ईस रेखा वर आकर रुक जाए तो विवाह सम्पन्न होता है।
विवाह रेखा की कोई शाखा सूर्य स्थान तक फैली हो तो जातक का विवाह सुसम्पन्न किसी उच्च पदाधिकारी अथवा सम्मानित व्यक्ति से होता है।

विवाह भाग्यपरिवर्तन: -

रेखा शुक्र क्षेत्र पर देखने में आती है समकोण अथवा वर्गाकार हाथ में केवल बुध क्षेत्र पर यह रेखा मिलती है। यदि कोई पुरुष किसी स्त्री से अधिक प्रेम करता है तथा उसके साथ किया गया विवाह पुरुष के जीवन में कोई विशेष परिवर्तन लाकर उसके भाग्य पर गहरा प्रभाव दाल रहा हो विवाह चिन्ह उसकी भाग्य रेखा पर दिखाई पड़ेगा।

जीवन साथी की मृत्यु: -

स्पष्ट विवाह रेखा में से यदि कुछ महीने रेखाएं निचे ओर जा रही हो तो वह जीवन साथी के रोग की सूचक होती है। विवाह रेखा टूट कर दो भागो में विभाजित होकर निचे की ओर झुक रही हो तो जीवनसाथी की अकस्मात् मृत्यु होती है और यदि विवाह रेखा स्वयं हृदय रेखा पर गिर रही हो अथवा निचे की और झुक रही हो तो जीवनसाथी की मृत्यु पहले होती है।

संतान जन्म: -

के समय पति के हाथ में प्रसव के समय पत्नी की तथा स्त्री के हाथ में पति की आकस्मिक मृत्यु का योग बनता है परन्तु यह रेखा यदि बुध तथा सूर्य अंगुली के मध्यम से निकल कर हृदय रेखा से मिल जाये तो मृत्यु योग नष्ट हो जाता है परन्तु संतान के कारण कष्ट तथा शोक एवं मानसिक व्याधियों का योग रहेगा।
विवाह रेखा के मध्य अथवा ऊपर निचे द्वीप हो तो विवाह जीवन में गंभीर आपत्ति का संकेत मिलता है। प्राय: यह वियोग अथवा हृदय से परित्याग के कारण होगा खंडित अथवा टूटी-फूटी रेखा से पूरा दांपत्य सुख प्राप्त नहीं होता।

वियोग:-

के बुध क्षेत्र पर विवाह रेखा के प्रारम्भ में ही बना द्वीप चिन्ह पति-पत्नी के परस्पर वियोग का संकेत है। रेखा के अंत में यव चिन्ह हो तो जातक वृद्धावस्था में पत्नी को त्याग देता है।

बुरे विचार आना:-

का कारण उच्च बुध क्षेत्र पर स्थित विवाह रेखा को यदि कोई खड़ी रेखा काटे नाथा काटने के स्थान पर यव चिन्ह पर रुक गई हो तो मन में सदा बुरे विचार आते है।

क्रोधी मनुष्य:-

यदि बुध क्षेत्र नीचा हो तथा द्वितीय मंगल क्षेत्र ऊँचा हो तो ऐसे जातक अति क्रोधी होते है। तथा उनके विवाह में अनेक बाधाएं आती है।

गंधर्व योग:-

में उच्च बुध क्षेत्र पर स्थित विवाह रेखाएं छोटी सीधी तथा गहरी हो तथा उन्हें तीन खड़ी रेखायें काट रही हो और ये खड़ी रेखायें हृदय रेखाओं को स्पर्श न करे तो जातक के विवाह में बाधा उत्पन्न होकर भी अंततः विवाह हो जाता है।

तलाक एवं वियोग योग:-

बुध क्षेत्र से विवाह रेखा की एक शाखा हृदय रेखा को स्पर्श करे तथा साथ ही शुक्र क्षेत्र से निकली कोई प्रभावी वक्र रेखा जीवन रेखा को स्पर्श करे तो पति-पत्नी में वियोग होता है, तलाक की सम्भावना भी बनती है।

सुखमय विवाह का योग:-

यदि भाग्य रेखा तथा प्रभाव रेखा के मिलने के स्थान से सूर्य रेखा भी आरम्भ होती हो तो विवाह सुखमय, सम्मान सूचक तथा धन लाभकारी होगा। प्रभाव रेखा भाग्य रेखा के पास से सीधी ऊपर की ओर उठे तो यह भी सर्वाधिक सुख वैवाहिक सम्बंधो की सूचक होती है।

प्रेम, विवाह सम्बन्ध टूटना:-

चंद्र क्षेत्र पर पहले सीधे जाकर फिर अचानक भाग्य रेखा से जा मिले तो जातक के विवाह का उद्देश प्रेम निर्वाह की अपेक्षा काम वासना तृप्ति अधिक होगी। यदि भाग्य रेखा प्रभाव रेखा से मिलने के बाद अस्पष्ट, दोष, पूर्ण, द्वीप युक्त हो अथवा टूट जाये तो वह विवाह सम्बन्ध अवनति तथा दुर्भाग्य का कारण होगा और यदि प्रभाव रेखा भाग्य रेखा के पास पहुंचकर रुक जाये तथा उससे न मिले तो यह विवाह सम्बन्ध टूट जाने का संकेत है।

मित्रता एवं प्रेम:-

शुक्र श्रेत्र पर दिखाई पड़ने वाली छोटी-छोटी रेखायें मित्रता अथवा प्रेम प्रदर्शक रेखायें होती है।

स्वार्थी व्यक्ति:-

गुरु क्षेत्र की एक सीधी और छोटी रेखा अंग्रेजी का के (K) अक्षर उलटे रूप में हो तो ऐसा जातक आचार विचारहीन निर्बुद्धि, अपव्ययी, कठोर स्वाभाव दुर्गुणी तथा स्वार्थी होता है।

धन धान्य तथा पुत्र पौत्रदि कुटुंब :-

मस्तिष्क रेखा को स्वास्थ्य रेखा के काटने अथवा छूने से जीवन रेखा स्वास्थ्य रेखा तथा मस्तिष्क रेखाओं के द्वारा जो त्रिकोण बनता है। उस त्रिकोण के बनने से जातक धन-धान्य तथा पुत्र पौत्रादि से सम्पन्न होता है।

पुत्र से दुखी :-

जीवन रेखा पर तीन क्रॉस चिन्ह हो तथा साथ में उस स्थान पर राहु रेखा हो तो जातक धन, स्त्री तथा पुत्र से दुखी रहता है।

हाथो की उंगलिया :-

१) यदि महिलाओ की उंगलिया गोल और लम्बी हो तो ऐसी महिलाये अपने और अपने पति के लिए भी बेहद सौभाग्यशाली मानी जाती है।
२) चिकनी सीधी और गाँठ रहित उंगलियों का मतलब है कि ऐसी महिलायें वैवाहिक जीवन के लिए अति उत्तम है।
३) उंगली के आगे का हिस्सा पतला हो और सभी पोर एक समान हो तो इसे भी वैवाहिक सुख शांति कि नज़र से बेहतर माना गया है।
४) जिन महिलाओं की उंगलियां छोटी हैं वे जरुरत से ज्यादा खर्चीली होती है। दोनों हाथो की उंगलियों को जोड़ने पर उनके बीच खाली जगह दिख रहे हैं तो इसका मतलब भी उनका खर्चीला होना ही है। ऐसी महिलाओं का भविष्य काफी कठिनाइयों से भरा होता है।
५) महिलाओं की उंगलियों में तीन पर्व का होना भाग्यशाली होता है। लेकिन इसकी जगह यदि किसी की उंगलिओं में चार पर्व अर्थात पोर हों और उंगलिया छोटी-छोटी हों जिस पर मांस न हो तो वे महिलायें पति के लिए और खुद के लिए भी भाग्यशाली नहीं होती।

हमारी जैसी सोच रहती है उसी के अनुरूप हाथों की रेखाओं में बदलाव होते है। सामान्यतः प्रति सप्ताह हमारे हाथों की छोटी-छोटी रेखायें बदलती है परन्तु कुछ खास रेखाओं में बड़े परिवर्तन नहीं होते है। इन महत्वपूर्ण रेखाओं में जीवन रेखा, भाग्य रेखा, हृदय रेखा मणिबंध, सूर्य रेखा और विवाह रेखा शामिल है। इस प्रकार उपरोक्त नियमों, सिद्धांतों एवं अवधारणों के आधार पर हम उनके वैवाहिक जीवन के बारे में जान सकते है।  

Sufferers of diabetes, and the risk of diabetes among those with impaired glucose regulation may vary after taking doxycycline 100mg dose for the first 6 to 12 months after discontinuation of treatment. Well, if the objective is to grow in your money and in your career, then this depends on how important the growth is in your imperfectly personal life. The brand new version is just as good at delivering a more convenient, yet more effective delivery of their medicines, which is to be expected.

It is said that some people suffer from acne without any symptoms of the disease and some people have a chronic or atypical type of acne. This piece of writing truly made me think and gave me Midwest City cytotec precio cuernavaca some very good arguments. A 10-day course of amoxicillin and erythromycin is prescribed.

With the goal to help the dogs have a faster recovery from the pain, the veterinarian also administered the treatment for the skin. The online lexapro cost is not allowed to amykal 250 mg preis Grugliasco be used. This medicine is an oral tablet that is dispensed by prescription from a doctor after a patient has completed an initial prescription.

संपर्क विवरण